भारत से जीएसपी सुविधा छीन सकता है अमेरिका



अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के साथ जीएसपी (जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंस) को समाप्त करने का फैसला लिया है.,ट्रंप ने इस बात की जानकारी अपने संसद में दी है. भारत के अलावा तुर्की से भी अमेरिका यह कारोबारी संबंध समाप्त कर रहा है.

जीएसपी समाप्त करने से भारत और तुर्की के दो हजार से भी ज्यादा प्रोडक्ट इस फैसले की जद में आएंगे. इसमें टेक्सटाइल मैटेरियल ऑटो पार्ट्स और इंडस्ट्रियल वाल्व प्रमुख है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की ओर से इस फैसले पर दस्तखत कर दिए जाने के बाद इन देशों को 60 दिन का नोटिफिकेशन भेजा गया है.

जीएसपी अमेरिका का एक ट्रेड प्रोग्राम है जिसके तहत अमेरिका उन सभी विकासशील देशों में आर्थिक तरक्की लिए अपने यहां बिना टैक्स सामानों को आयात करने की अनुमति देता है. अभी तक अमेरिका ने विश्व के कुल 130 देशों को यह सुविधा दी है जिसमें भारत में शामिल है.

हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत हमें इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं कर पा रहा है कि अपने बाजार में अमेरिकी प्रोडक्ट की पहुंच कहां और कितना आसान बनाया जा सकेगा. उधर तुर्की ने ट्रंप से कहा है कि आर्थिक तरक्की देख कर तुर्की को विकासशील देशों की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता है.

अगर अमेरिका जीएसपी को समाप्त करता है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विदेश नीति के लिए यह मुश्किल साबित हो सकता है.


अगर यह न्यूज़ पसंद आया तो हमारी सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए आर्थिक मदद करने हेतु यहाँ क्लिक करें